अपराधउत्तराखंड

Big Breaking अवैध हथियार तस्करों के खिलाफ उत्तराखंड STF की जबरदस्त स्ट्राइक

Spread the love

♦️ उत्तराखण्ड एसटीएफ व पुलभट्टा पुलिस ने मुठभेड़ में किया उ0प्र0 के सबसे बड़े आर्म्स डीलर को गिरफ्तार जो उत्तराखण्ड, हरियाणा, पंजाब समेत समूचे उ0प्र0 में करता था अवैध असलाहों की तस्करी।
♦️ भारी मात्रा में अवैध हथियार बरामद (06 सेमीऑटोमैटिक पिस्टल,तंमचे,कारतूस व मैगजीन)।
♦️ एसटीएफ के इस ऑपरेशन को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ द्वारा पिछले तीन दिवस से कुमाऊं क्षेत्र में लगाया था कैंप।
हर्षिता टाइम्स।
देहरादून। एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल द्वारा अवैध हथियारों के तस्करों के विरुद्र कार्यवाही के आदेश के क्रम में सीओ एसटीएफ कुमाऊँ सुमित पांडे एवं प्रभारी निरीक्षक एसटीएफ एमपी सिंह के नेतृत्व में एसटीएफ व थाना पुलभट्टा पुलिस द्वारा एक ज्वांइट ऑप्रेशन के तहत कार्यवाही करते हुए थाना पुलभट्टा क्षेत्र से एक बड़े अवैध हथियारों के तस्कर इस्त्याक उर्फ सोनू को गिरफ्तार किया है जिसके कब्जे से 06 अवैध कन्ट्री मेड हथियार व कारतूस बरामद हुए हैं। गिरफ्तार अभि0 के विरुद्ध थाना पुलभट्टा में धारा 3/25 आर्म्स एक्ट व 307 आईपीसी के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल पिछले तीन दिवस से कुमाऊं में रहकर इस ऑपरेशन की स्वयं निगरानी कर रहे थे और टीम को आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे थे।
गिरफ्तार तस्कर इस्त्याक उर्फ सोनू के बारे में उत्तराखण्ड एसटीएफ को गोपनीय इनपुट मिला था कि वह हथियारों की बड़ी खेप लेकर उत्तराखण्ड की सीमा पर आ रहा है जिस पर एसटीएफ द्वारा स्थानीय पुलभट्टा पुलिस से सम्पर्क कर उन्हें साथ लेकर बरा क्षेत्र में उसकी घेराबन्दी की गयी जैसे ही टीम के द्वारा उसको पकड़ने का प्रयास किया गया तो उसके द्वारा पुलिस टीम के ऊपर फायरिंग शुरु कर दी टीम के द्वारा आत्मरक्षार्थ जवाबी फायर करते हुए बदमाश को मौके पर ही धर-दबोचा गया। गिरफ्तार अपराधी ने पूछताछ में एसटीएफ को बताया कि वह वर्ष 2008 से हथियारों की तस्करी कर रहा है वह उ0प्र0 के एटा, कानपुर म0प्र0 के मुरेना, राजस्थान के अल्वर से हथियार मंगा कर उ0प्र0 , उत्तराखण्ड, हरियाणा और पंजाब आदि राज्यों में सप्लाई करता आ रहा है, इसी के चलते उसके खिलाफ कई राज्यों में आर्म एक्ट के मुकदमें दर्ज हैं, इसके द्वारा अब तक करीब 400 पिस्टल/रिवाल्वर की तस्करी उ0प्र0 व उससे लगे राज्यों में की जा चुकी है। गिरफ्तार अभि0 ने बताया कि उन्होनें हथियारों की सप्लाई के लिए कोडवर्ड भी बना रखे ताकि बातचीत व फोन में किसी को शक न हो इसके लिए वह पिस्टल को (गाड़ी) व कारतूसों को कैप्सूल कहते हैं, पिस्टल उन्हें करीब 30 हजार में मिलती है जिसे आगे 40 हजार में पार्टी को बेच देते हैं इस प्रकार एक पिस्टल में उन्हें 10हजार का मुनाफा हो जाता है। एसटीएफ की इस कार्यवाही में मुख्य आरक्षी महेन्द्र गिरि और किशोर कुमार की विशेष भूमिका रही। गिरफ्तार अभियुक्त से 02 देसी पिस्टल सेमी ऑटोमेटिक .32 बोर मय 04 मैगजीन, 01 देसी रिवाल्वर .38 बोर, 03 देसी तमंचे सिंगल शॉट, 22 बोर, 01 जिंदा कारतूस, 02 खोखा कारतूस, ₹7590 नगद व एक मोटर साइकिल स्प्लेंडर संख्या यूके06 एजे 3180 बरामद हुए। गिरफ्तार अभियुक्त पर पूर्व में भी आर्म्स एक्ट में वर्ष 2011 में थाना भोजीपुराख् 2019 में थाना बहेड़ी, 2020 में थाना सिरसा हरियाणा, 2022 में थाना बहेड़ी में अपराधिक रिकार्ड दर्ज है।
एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा बताया गया कि पकड़ा गया अभियुक्त इश्त्याक उर्फ सोनू पड़ोसी राज्य उ0प्र0 का रहने वाला है व अवैध हथियारों का बड़ा सौदागर है जो कि उ0प्र0 व उससे लगे राज्यों में अवैध हथियारों का बड़ा नेटवर्क चला रहा था। जिसके खिलाफ कई राज्यों में आर्म्स एक्ट में मुकदमें दर्ज हैं। हमारी टीम पिछले कई महीनों से हथियारों के इस नेटवर्क पर काम कर रही थी। टीम को एक सॉलिड टिप मिली थी कि इश्त्याक का मूवमेंट उत्तराखण्ड की तरफ हो रहा है इस पर टीम को अलर्ट कर लोकल पुलिस की मदद से एक ज्वांइट ऑप्रेशन कर इसकी गिरफ्तारी की गयी। इसकी पूछताछ में टीम को अवैध हथियारों की तस्करी के सम्बन्ध में कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ हाथ लगी हैं जिसके आधार पर एसटीएफ आगे कार्यवाही करेगी, गिरफ्तार तस्कर के विरुद्ध थाना पुलभट्टा , जनपद ऊधम सिंह नगर में समुचित धाराओं में अभियोग पंजाकृत कराया गया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *