अपराधउत्तराखंड

UP का गैंग चढा दून पुलिस के हत्थे, डकैती की बडी घटना को अंजाम देने आए थे

Spread the love

UP का गैंग

हर्षिता टाइम्स।
देहरादून, 12 JULY। नेहरू कालोनी क्षेत्र में डकैती की घटना को अंजाम देने आये 11 अभियुक्तों को नेहरू कालोनी पुलिस व एसओजी देहरादून की संयुक्त टीम ने किया गिरफ्तार। अभियुक्तों के कब्जे से अवैध अस्लहे, चोरी के मोबाइल फोन व नगदी बरामद।

पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के द्वारा जनपद में निवासरत बाहरी/संदिग्ध व्यक्तियों के सत्यापन के लिये व्यापक स्तर पर अभियान चलाये जाने हेतु निर्देश दिये गये थे। जिसके अनुपालन में पुलिस अधीक्षक अपराध, पुलिस अधीक्षक नगर के निर्देशन तथा क्षेत्राधिकारी सदर के पर्यवेक्षण में थाना स्तर पर अलग-अलग टीमें गठित कर संदिग्ध व्यक्तियों की तलाश हेतु नियमित रूप से चौकिंग अभियान चलाया जा रहा है।

UP का गैंग 11 जुलाई को थाना नेहरू कालोनी तथा एसओजी देहरादून की संयुक्त टीम को मुखबिर के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि मोथोरावाला सीवर प्लांट के पास 10 से 12 लोग इक्ट्ठा होकर किसी बडी आपराधिक घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। जिनके पास अवैध अस्लाह होने की भी सम्भावना है।

उक्त सूचना पर थानाध्यक्ष नेहरू कालोनी मय पुलिस बल के मौके पर पहुंचे तो सीवर प्लांट के पास स्थित खाली मैदान में एक निर्माणाधीन मकान मे पास पुलिस टीम को कुछ संदिग्ध व्यक्ति बैठे हुए दिखाई दिये, जिन्हें पुलिस टीम द्वारा घेर-घोट कर पकड लिया गया।

पकड़े गए व्यक्ति व बरामद माल :-

पकडे गये व्यक्तियों से नाम पता पूछने पर उनके द्वारा अपना नाम संजय पुत्र गोली, सोनू पुत्र बरसाती, अविनाश कुमार पुत्र शिवनाथ, श्रवण कुमार पुत्र आशाराम, अमन कुमार पुत्र नीरज, लवकुश पुत्र अंगद, रणजीत पुत्र यज्ञ राम, त्रिलोकी पुत्र नारायण, धर्मेन्द्र पुत्र राजकुमार, रामपाल पुत्र राजेन्द्र तथा मनीष पुत्र जसराम सभी निवासी गोंडा उत्तर प्रदेश बताया गया।

अभियुक्तों की तलाशी लेने पर उनके पास से 02 छर्रे वाली पिस्टल 02 अदद खुखरी 28 मोबाइल फोन तथा 38810 रू0 नगद बरामद हुए। बरामद मोबाइल फोन व नगदी के सम्बन्ध में पूछताछ करने पर अभियुक्तों द्वारा उन्हें हरिद्वार में अलग-अलग टप्पेबाजी की घटनाओं में चोरी करना तथा आज दीपनगर क्षेत्र एक चिन्हित किये गये घर में डकैती डालने के प्रयोजन से उक्त स्थान पर एकत्रित होना बताया गया। सभी अभियुक्तों को मौके से गिरफ्तार किया गया, जिनके विरूद्ध थाना नेहरू कालोनी में धारा 399, 402 भादवि तथा आर्म्स एक्ट के तहत अभियोग पंजीकृत किये गये। अभियुक्तों को समय से न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

पूछताछ का विवरण:

पूछताछ में अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि वे सभी मूलरूप से गोंडा उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं तथा UP का गैंग बनाकर टप्पेबाजी व अन्य आपराधिक घटनाओं को अंजाम देते हैं, वे सभी कुछ दिन पूर्व ही देहरादून आये थे तथा कैलाश हास्पिटल में काम करने वाली उनकी एक परिचित महिला द्वारा उन्हें दीपनगर में 02 अलग-अलग कमरे किराये पर दिलवाये गये थे। उनकी देहरादून में किसी बडी घटना को अंजाम देकर वापस गोंडा लौटने की योजना थी।

जिसके लिये उन्होंने नेहरू कालोनी क्षेत्र में रैकी कर एक घर को चिन्हित किया था तथा आज उसी घर में डकैती डालने के प्रयोजन से मोथोरावाला क्षेत्र में एकत्रित हुए थे। अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा वर्तमान में जारी कांवड यात्रा के दौरान हरिद्वार में अलग-अलग घाटों से टप्पेबाजी/चोरी की घटनाओं को अजांम दिया गया था, जिससे सम्बन्धित मोबाइल फोन व नगदी को अभियुक्तों के पास से बरामद किया गया है।

घटना का अनावरण करने वाली पुलिस टीम को पुरुस्कार :-

घटना का अनावरण करने वाली पुलिस टीम को पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा 10000/- रुपये के नगद पुरुस्कार से पुरुस्कृत करने की घोषणा की गई)

पुलिस टीम :

01. उ0नि0लोकेन्द्र बहुगुणा, थानाध्यक्ष नेहरू कालोनी
02. उ0नि0दीपक द्विवेदी, चौकी प्रभारी बाइपास
03. उ0नि0 बलवीर डोभाल, चौकी प्रभारी फव्वारा चौक
04. उ0नि0 पंकज तिवारी, चौकी प्रभारी जोगीवाला,
05. हे0का0 सोबन सिंह, कां0 आशीष राठी, कां0 श्रीकांत ध्यानी, कां0 बृजमोहन, कां0 जगमोहन पंवार, कां0 विवेक राठी, कां0 धर्मवीर, कां0 हेमवती नंदन, कां0 मुकेश कण्डारी, कां0 संदीप, कां0 सुधांशु

डकैती को अंजाम देने से पहले ही UP का गैंग चढ़ा दून पुलिस के हत्थे, अवैध असलहे, चोरी के मोबाइल फोन व नगदी बरामद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *