देश-विदेशहादसा

जापान में 7.6 तीव्रता का भूकंप, बड़े पैमाने पर नुकसान, भूकंप के झटकों से ढह गई इमारतें

Spread the love

Japan Earthquake

साल के पहले ही दिन जापन भूकंप के झटकों से दहल गया। जापान में धरती हिलते ही इमारतें ढह गईं, आग लग गई और पूर्वी रूस तक सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई, जबकि जापान के तटीय इलाकों में रह रहे लोगों का वहां से चले जाने का आदेश दिया गया।

Japan Earthquake :- जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने प्रभावित क्षेत्रों के निवासियों से खतरे वाली जगह को तुरंत खाली करने की अपील की है। साथ ही, सरकार के एक प्रवक्ता ने निवासियों को संभावित आगे के भूकंपों के लिए तैयार रहने के लिए आगाह किया है।

Japan Earthquake

Japan Earthquake :- दुनिया जब नए साल का जश्न मना रही थी उस दौरान जापान के लोग परेशानी से जूझ रहे थे। सोमवार को 7.5 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप से जापान की धरती बुरी तरह से कांप गई। इस घटना में करीब 48 लोगों की मौत हो गई और 155 लोगों के फंसे होने की आशंका हैं।

Japan Earthquake :- ये जानकारी एनएचके वर्ल्ड ने दी। एक दिन में 155 भूकंप के झटके जापान में महसूस किए गए। यूनाइटेड जूलॉजिकल सर्वे के मुताबिक यह भूकंप स्थानीय समय के मुताबिक शाम करीब 4 बजकर 10 मिनट पर इशिकावा प्रान्त के नोटो प्रायद्वीप पर आया. भूकंप 10 किलोमीटर की गहराई में महसूस किया गया। जापान में धरती हिलते ही इमारतें ढह गईं, आग लग गई और पूर्वी रूस तक सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई, जबकि जापान के तटीय इलाकों में रह रहे लोगों का वहां से चले जाने का आदेश दिया गया।

Japan Earthquake:-

Japan Earthquake :- सोमवार को मध्य जापान में आए 7.6 तीव्रता के भूकंप के बाद जापान, उत्तर कोरिया और रूस में सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है. क्रेमलिन ने रूस के सुदूर पूर्व क्षेत्र में सुनामी की चेतावनी की रिपोर्ट की पुष्टि की और कहा कि लोगों को सुरक्षित क्षेत्रों में स्थानांतरित करने के लिए निकासी अभियान चलाया जा रहा है. रिपोर्टों के अनुसार, जापानी तटीय क्षेत्रों इशिकावा, निगाता और टोयामा में आई पहली सुनामी लहरें लगभग एक मीटर ऊंची थीं। एक के बाद एक 155 झटकों ने भारी तबाही मचाई हैं भूकंप आने के बाद लोग घरों से भागते नजर आए। भूकंप के झटके इतने तेज भी पूरा का पूरा मेट्रो स्टेशन तक हिल गया।

Japan Earthquake

जापान में तीन दिन पहले ही भूकंप के तेज झटक महसूस किए गए थे, जब कुरिल द्वीप में 6.3 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। लेकिन आज 1 जनवरी को महसूस किए गए भूकंप के झटके बाद जापान के प्रधान मंत्री फुमियो किशिदा ने सरकार को भूकंप और सुनामी पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं और खतरनाक स्थित के लिए तैयार रहने की चेतावनी दी है। उधर भूकंप की वजह से जापान के भूकंप प्रभावित क्षेत्र में लगभग 36000 घरों की बिजली गुल हो गई है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *