ख़बरसार

बदरी केदार विकास समिति ने एक रंगबिरंगे और खुशनुमा आयोजन के साथ मनाया होली मिलन समारोह

Spread the love

Badri Kedar Vikas Samiti Holi Milan Ceremony

देहरादून। बदरी केदार विकास समिति ने आज होली मिलन समारोह का आयोजन किया। समारोह की अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष विजय खाली व संचालन सचिव मुकेश राणा ने किया।

समिति के अध्यक्ष विजय खाली ने इस अवसर पर सभी को बधाई देते हुए कहा कि होली एक ऐसा महान त्योहार है जो हमें खुशी, उमंग और सबके मन में एकता का भाव जगाने का अवसर देता है। हम सभी जानते हैं कि होली एक रंगीन और धूमधाम से भरा त्योहार है।

इसमें खुशी के रंग, प्यार की पिचकारी और इतना अधिक मिठास होती है कि वह हमारे प्रत्येक जीवन के एक महत्वपूर्ण हिस्से के रूप में मौजूद रहती है। होली एक उत्सव है जो हमें उद्धार, प्रगति और सामरिकता की ओर बढ़ने का संकेत देता है। उन्होंने कहा कहा कि यह ऐसा अवसर होता है जब हम अपने दोस्तों और परिवार के साथ घरों के बाहर निकलकर गेले गलों से ज्ञान, प्यार और भाईचारा शेयर करते हैं। समारोह में उन्होंने होली पर गीत सुनाकर दर्शकों को नाचने पर मजबूर किया।

Badri Kedar Vikas Samiti Holi Milan Ceremony

Badri Kedar Vikas Samiti Holi Milan Ceremony :- समिति के पूर्व अध्यक्ष भगवती प्रसाद किमोठी ने समिति के सभी सदस्यों को होली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हम इस त्योहार को शांति, सौहार्द और सम्मान की भावना के साथ मनाएं। हमें संगठन में किसी भी रूप में अन्याय, तकरार और मतभेद से दूर रहना चाहिए। होली एकता और रूपरंग का प्रतीक है। यह उत्सव हमें इस संगठन के लिए एक महत्वपूर्ण समय प्रदान करता है, जहां हम सभी एकजुट होकर और एक-दूसरे का सम्मान करके खुशियों को बांट सकते हैं।

सचिव मुकेश राणा ने कहा कि आपसी अधिकारों के रूप में, हमारा दायित्व बनता है कि हम एक दूसरे की समर्थन करें और समूह में मिलभूमि का ध्यान रखें। आइए हम सब मिलकर अपने विभाजनों को समाप्त कर दें और एकता और एक दूसरे का साथ देकर उत्कर्ष की ओर बढ़ें। होली के इस खास अवसर पर, मैं आप सभी से एक अपील करना चाहूंगा कि हम इस उत्सव को खुशहाली, सामरिकता और एकजुटता के साथ मनाएं।

Badri Kedar Vikas Samiti Holi Milan Ceremony के इस अवसर पर पूर्व बचन सिंह रावत, पूर्व सचिव सुभाष पुरोहित, कार्यकारिणी सदस्य रमाकांत बेंजवाल, संपादक विश्वनाथ बेंजवाल, मीडिया प्रभारी सुबोध भट्ट सदस्य शशि भूषण खाली, राजेन्द्र भंडारी, ललित मोहन पुरोहित आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *