उत्तराखंडहादसा

मुख्यमंत्री पहुंचे बाबा बौखनाग के मंदिर, पूजा अर्चना कर सभी श्रमिकों के सकुशल रेस्क्यू होने की कामना की

Spread the love

Safe rescue of workers

उत्तरकाशी। विदित हो गत 16 दिनों से टनल में फंसे श्रमिकों के बचाव हेतु मुख्यमंत्री धामी निरंतर दिन -रात हो रहे राहत व बचाव कार्यों की कमान स्वयं अपने हाथों में लिए हुए है.. यही नहीं प्रधान मंत्री मोदी प्रतिदिन तात्कालिक परिस्थितियों की जानकारी प्राप्त कर मुख्यमंत्री धामी के संपर्क में हैं।

आज इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने टनल के प्रवेश द्वार पर स्थित बाबा बौखनाग के मंदिर पर पूजा अर्चना कर सभी श्रमिकों के सकुशल रेस्क्यू होने की कामना की।

Safe rescue of workers :- मुख्यमंत्री ने टनल में चल रहे मैन्युअली डिगींग कार्य के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा डिगिंग कार्य हेतु पाइप में गए श्रमिकों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाए। उन्होंने मैन्युअल डिगिंग कर रहे श्रमिकों से वार्ता कर उनका हौसला बढ़ाया एवं राहत बचाव कार्य में जुटे सभी श्रमिकों के काम की सराहना की ।

Safe rescue of workers

मुख्यमंत्री धामी ने अधिकारियों से अंदर फंसे श्रमिकों का कुशलक्षेम एवं निरंतर डॉक्टरों, मनोचिकित्सको एवं श्रमिकों के परिवार जनों से अंदर फंसे श्रमिकों का निरंतर संवाद स्थापित करवाने के निर्देश दिए ।

Safe rescue of workers :- मुख्यमंत्री ने सिलक्यारा स्थित मीडिया सेंटर में प्रेस ब्रीफिंग करते हुए बताया कि सभी श्रमिक, इंजीनियर, विशेषज्ञ, अधिकारी पूरी शिद्दत एवं मेहनत के साथ हर संभव प्रयास में जुटे हुए हैं।

उन्होंने बताया अब तक कुल 52 मीटर पाइप को पुश कर लिया गया है। उन्होंने बताया अंदर फंसे सभी श्रमिकों का स्वास्थ्य सकुशल है। राहत एवं बचाव कार्य में जुटे सभी लोग पूरी ऊर्जा और सकारात्मक भाव के साथ कार्य कर रहे हैं।

Safe rescue of workers

Safe rescue of workers :- मुख्यमंत्री धामी निरंतर अस्थायी सीएम कैम्प कार्यालय, मातली से रेस्क्यू अभियान पर नजर बनाए हुए हैं। आज सुबह वह मातली से श्रमिकों का कुशलक्षेम जानने सिलक्यारा टनल पर पहुंचे।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री के पूर्व सलाहकार एवं उत्तराखंड सरकार के विशेष कार्याधिकारी भास्कर खुल्बे, कमिश्नर गढ़वाल मंडल विनय शंकर पांडे, रेस्क्यू आभियान के समन्वयक सचिव डॉ. नीरज खैरवाल, पीएमओ उप सचिव मंगेश घिल्डियाल, सूचना महानिदेशक बंशीधर तिवारी, जिलाधिकारी अभिषेक रूहेला, एसडीआरएफ कमांडेंट मणिकांत मिश्रा एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *