अपराधउत्तराखंड

नशा तस्करों पर दून पुलिस का बडा प्रहार, स्मैक के साथ 02 अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

Spread the love

हर्षिता टाइम्स।
देहरादून, 8 मई। ड्रग फ्री देवभूमि 2025 की परिकल्पना को साकार करने तथा अवैध मादक पदार्थों की तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाते हुए नशा तस्करों के विरूद्ध कडी कार्यवाही करने हेतु पुलिस-उपमहनिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा सभी अधीनस्थ अधिकारियों को स्पष्ट दिशा-निर्देश दिये गये हैं। थानाध्यक्ष रायवाला द्वारा थाना रायवाला पर पुलिस टीमों का गठन कर उन्हें नशा तस्करों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया है। गठित पुलिस टीमों द्वारा लगातार क्षेत्र में अवैध मादक पदार्थों की तस्करी में लिप्त तस्करों के ठिकानों पर दबिश दी जा रही है ।
पुलिस टीम द्वारा की गयी कार्यवाही:- गठित पुलिस टीम द्वारा 07 मई को रायवाला चौक से आगे मुख्य मार्ग पर रेलवे स्टेशन के पास दौराने गश्त/चौकिंग 02 व्यक्ति संदिग्ध अवस्था में खडे दिखाई दिये। जो पुलिस टीम को देखकर दूसरी दिशा में मुडकर जाने लगे। संदिग्ध प्रतीत होने पर पुलिस टीम द्वारा दोनो युवकों को पकडते हुए पूछताछ की गयी तो उनके द्वारा अपना नाम पप्पू श्रीवास्तव पुत्र रामकुमार निवासी ग्राम खिरका थाना फतेहगंज तहसील मीरगंज बरेल उ0प्र0 उम्र-32 वर्ष व शहनवाज सिद्दीकी उर्फ शानु पुत्र आबिद हसन निवासी अंसारी मौहल्ला फतेहगंज थाना फतेहगंज तह0 मीरगंज बरेली उ0प्र0 उम्र-25 वर्ष बताया गया। जिनसे भागने का कारण पूछा गया तो वह घबराते हुए कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे पाये। जिनकी तलाशी लेने पर दोनो अभियुक्तों के पास से प्लास्टिक की पन्नी में छिपाकर रखी गयी कुल 86 ग्राम अवैध स्मैक बरामद हुई। बरामद स्मैक का अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में मूल्य लगभग 08 लाख 50 हजार रू0। अभियुक्तों के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है। प्रारम्भिक पूछताछ में अभियुक्तों द्वारा उक्त स्मैक को मीरगंज बरेली से लाकर रायवाला में सुनयना मल्होत्रा नाम की महिला को देने के लिये आना बताया गया। अभियुक्तों के विरूद्ध थाना रायवाला पर मु0अ0सं0रू 87/23 धारारू 08/21 एनडीपीएस एक्ट का अभियोग पंजीकृत किया गया। जिन्हें समय से मां0 न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा। अभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदय द्वारा 5000/-रुपये नगद पुरुस्कार की घोषणा की गई।
पूछताछ का विवरण: पूछताछ में अभियुक्त पप्पू श्रीवास्तव द्वारा बताया गया कि मैं ग्राम खिरका, थाना फतेहगंज बरेली का रहने वाला हूँ तथा मजदूरी का कार्य करता हूँ। कुछ समय पूर्व मेरी मुलाकात शाहनवाज सिद्धकी उर्फ शानू जो फतेहगंज में नूरी ज्वैलर्स नाम की दुकान में कार्य करता है से हुई थी। चूंकि बरेली में स्मैक काफी कम दामों में मिल जाती है तथा हमारे आस-पास के कई लोगों द्वारा अन्य राज्यों/जनपदों में उक्त स्मैक की तस्करी कर काफी पैसा कमाया था, इसलिये जल्दी पैसा कमाने के लालच में हमारे द्वारा बरेली में आदेश तिवारी नाम के एक व्यक्ति से थोडी-थोडी मात्रा में उक्त स्मैक को खरीदकर इक्ट्ठा किया गया था। जिसे हम दोनो आज यहां सुनैना मल्होत्रा नाम की महिला को बेचने के लिये आये थे। जो हरिद्वार व देहरादून में स्मैक तस्करी का काम करती है, उसने हमें स्मैक डिलीवरी करने के लिये रेलवे स्टेशन रायवाला के पास बुलाया था, पर उक्त स्मैक को उसे देने से पहले ही पुलिस द्वारा हमें गिरफ्तार कर लिया गया।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *