Uncategorized

देवप्रयाग में स्थानीय स्तर पर हेरिटेज टूर गाइड तैयार किए जायेंगे, देवप्रयाग के पौराणिक स्वरूप से परिचय कराएंगे

Spread the love

देवप्रयाग 

हर्षिता टाइम्स।
देहरादून, 30 अगस्त। देवप्रयाग उत्तराखंड को पर्यटन गंतव्य बनाने की दिशा मे यहां दस दिवसीय निःशुल्क ‘हेरिटेज टूर गाइड ट्रेनिंग’ का आयोजन होने जा रहा हैं। उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद द्वारा सैलानियों को आकर्षित करने के लिए देवप्रयाग में स्थानीय स्तर पर हेरिटेज टूर गाइड तैयार किए जायेंगे। उत्तराखंड में पर्यटन यहां की आर्थिकी से जुड़ा महत्वपूर्ण पहलू है।

इसे देखते हुए सरकार भी पर्यटकों को ऐसे स्थलों पर ले जाने की दिशा में कदम बढ़ा रही है, जो उनकी नजरों से अपेक्षाकृत दूर ही रहे हैं। इसी क्रम में उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के माध्यम से हेरिटेज टूर की योजना को धरातल पर उतारा जा रहा है, ताकि सैलानी यहां की धरोहर से भी परिचित हो सकें तथा इससे उन्हें नया अनुभव भी हासिल होगा। साथ ही उनकी सुविधा के लिए स्थानीय स्तर पर हेरिटेज टूर गाइड के रूप में कार्य करने वाले स्थानीय युवाओं को रोजगार भी उपलब्ध हो सकेगा।

अपर निदेशक, पर्यटन विभाग पूनम चंद के अनुसार टूरिज्म एंड हास्पिटेलिटी स्किल काउंसिल (टीएचएससी) के माध्यम से युवाओं को हेरिटेज टूर गाइड का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यूटीडीबी ने प्रदेश में ऐसे स्थल चयनित किए हैं, जहां की धरोहर पर्यटकों के लिए नए आकर्षण से कम नहीं होगी।

देवप्रयाग के बद्री केदार मंदिर समिति के हाल में प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू हो रहा है :-

इसी कड़ी में आगामी 1 सितम्बर से 10 सितम्बर 2023 से देवप्रयाग के बद्री केदार मंदिर समिति के हाल में प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू हो रहा है । गाइड प्रशिक्षण के इस बैच में 30 प्रतिभागियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण के लिए 12वीं पास 18 से 55 साल तक की आयु का कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है।

10 दिन के प्रशिक्षण के बाद टूरिस्ट गाइड का सर्टिफिकेट दिया जाएगा। इस प्रशिक्षण की अवधि 10 दिन होगी जिसमे देवप्रयाग एवं आसपास के पर्यटन एवं अन्य क्षेत्र के विशिष्ट व्यक्तियों द्वारा प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षुओं को हेरिटेज टूरिज्म और हेरिटेज टूर गाइड की प्रस्तुति, व्यवहार, संचार, उत्तराखंड विरासत स्थल के रूप में तथा सतत और जिम्मेदार पर्यटन आदि विभिन्न पक्षों पर प्रशिक्षण दिया जायेगा। ट्रेनिंग के लिए देवप्रयाग, टिहरी , नरेंद्र नगर, ऋषिकेश, देहरादून के छात्र एवं छात्राओं द्वारा आवेदन किया गया है।

देवप्रयाग का है एतिहासिक एवं पौराणिक महत्‍व, यहां राम के रूप में विराजते हैं भगवान विष्णु

प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षुओं को दशरथशिला, नक्षत्र वेधशाला, रघुनाथजी मंदिर की साइट यात्रा भी कराई जाएगी। पर्यटन विभाग के ट्रेनिंग पार्टनर समर्पित मीडिया सोसाइटी द्वारा उपरोक्त ट्रेनिंग का संचालन करेगी। ट्रेनिंग का उद्द्घाटन 2 सितम्बर को सांय 4 बजे बद्री केदार मंदिर समिति हाल में नगर पालिका अध्यक्ष देवप्रयाग कृष्णकांत कोठियाल द्वारा किया जायेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *