Home उत्तराखंड क्या तीर्थ-पुरोहित एवं पांडा समाज संविधान से ऊंचा है : पृथ्वी सिंह...

क्या तीर्थ-पुरोहित एवं पांडा समाज संविधान से ऊंचा है : पृथ्वी सिंह चौहान

देहरादून। राज्य एवं देश से बाहर उत्तराखंड का नाम जब भी आता है तो सामने वाले के मस्तिष्क में “देवभूमि” की पवित्र आभा उकर कर प्रस्तुत हो जाती है। जाहिर सी बात है जहां देवता स्वयं निवास करते हो तो वह जगह सामान्य कैसे हो सकती हैं वहां के लोग एवं संस्कृति भी निश्चित रूप से विशिष्ट ही है, पर आज पूर्व मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को केदारनाथ में आदि देव भगवान शिव शंभू के अलौकिक दर्शन करने से रोकना तीर्थ पुरोहितों एवं पांडा समाज के लिए कहां तक न्यायोचित है??

क्या यह भारतीय संविधान अनुच्छेद 14,21 एवं 25 का खुला उल्लंघन नहीं है?

अनुच्छेद 14 कहता है कि “रूल ऑफ लॉ” सभी के लिए सामान्य रूप से एक होगा फिर आज घटित घटना क्रम तो इसका पालन नहीं करता( सबको दर्शन करने दें और किसी को रोक ले)?

अनुच्छेद 21 प्राण एवं दैहिक स्वतंत्रता का प्रतिपादन करता है, अर्थात भारत का कोई भी नागरिक कहीं भी आने और जाने के लिए स्वच्छंद है तो फिर आज पांडा समाज का दैहिक स्वतंत्रता पर अतिक्रमण कहां तक उचित है?

अनुच्छेद 25 भारत के सभी नागरिकों को धार्मिक स्वच्छंदता का अधिकार देता है जिसके अनुसार कोई भी अपने धर्म के अनुसार आचरण कर सकता है। फिर आप किसी को उसके धर्म का पालन करते हुए मंदिरों में जाने से कैसे रोक सकते हैं?

किसी को यह अधिकार प्राप्त नहीं है कि वे श्रद्धालुओं को दर्शन करने से रोकें। यह अत्यंत खेद का विषय है कि देवालयों को भी राजनीति का अखाड़ा बनाया जा रहा है। ऐसे अमर्यादित एवं अलोकतांत्रिक आचरण को प्रदर्शित करने वाले लोगों का बहिष्कार होना चाहिए।

देवस्थानम बोर्ड की स्थापना हमारे मंदिरों एवं देवायलों के बेहतर रखरखाव एवं उन्नयन की दिशा में हुई थी, शिरडी साईं बाबा ट्रस्ट मां वैष्णो श्राइन बोर्ड एवं पद्ममनाथन मंदिर बोर्ड ट्रस्ट आदि पहले से ही चल रहें हैं।जहां ऐसी व्यवस्था से बेहतर प्रबंधन व स्थानीय लोगों को लाभ मिला है। इसके प्रमाण भी मौजूद हैं।

ये तथाकथित लोग व्यक्तिगत लाभ के चलते मंदिरों में भी राजनीति कर रहे हैं।

निश्चित रूप से हिंदू धर्म के लिए घातक परंपरा का निर्माण कर रहे हैं ये यह लोग,आप इतने स्वार्थी हो गए कि श्रद्धालुओं को दर्शन भी नहीं करने देंगे??

ये तथाकथित लोग धर्मभीरु नहीं हो सकते, ऐसा अस्वीकार्य व्यवहार देवभूमि की सभ्यता के विरुद्ध भी है।

निश्चित रूप से देवभूमि के सभी नागरिकों को गहराई से इस विषय पर मंथन करना होगा, कहीं आज घटित यह घटनाक्रम भविष्य की अलोकतांत्रिक पद्धति को तो जन्म नहीं दे रहा?

RELATED ARTICLES

CM धामी ने 10 इलैक्ट्रिक बसों का शुभारंभ किया

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय से देहरादून स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत 10 इलैक्ट्रिक बसों का विस्तारित...

चिकित्सकों की कमी दूर करने के लिए किए जा रहे प्रयास: डॉ राजेश

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड / चिंतन शिविर के आज के समापन सत्र में स्वास्थ्य विषय पर स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार द्वारा प्रस्तुतिकरण...

पेयजल पर वृहद स्तर पर जागरूकता फैलाने की आवश्यकता

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड /25 चिंतन शिविर में पेयजल सचिव नितेश कुमार झा ने नेचुरल रिसोर्स मैनेजमेन्ट पर अपना प्रेजेंटेशन दिया। उन्होंने बताया कि...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

CM धामी ने 10 इलैक्ट्रिक बसों का शुभारंभ किया

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय से देहरादून स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत 10 इलैक्ट्रिक बसों का विस्तारित...

चिकित्सकों की कमी दूर करने के लिए किए जा रहे प्रयास: डॉ राजेश

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड / चिंतन शिविर के आज के समापन सत्र में स्वास्थ्य विषय पर स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार द्वारा प्रस्तुतिकरण...

पेयजल पर वृहद स्तर पर जागरूकता फैलाने की आवश्यकता

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड /25 चिंतन शिविर में पेयजल सचिव नितेश कुमार झा ने नेचुरल रिसोर्स मैनेजमेन्ट पर अपना प्रेजेंटेशन दिया। उन्होंने बताया कि...

यूपीसी लॉयंस और पैंथर्स का जीत से आगाज

-अजय गौतम मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट देहरादून: उत्तरांचल प्रेस क्लब की ओर से आयोजित अजय गौतम मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट में यूपीसी लायंस ने यूपीसी लेपर्ड को...

बदलती परिस्थितियों के हिसाब से हमें परिवर्तन लाने होंगे: मुख्य सचिव

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड/25 चिंतन शिविर के उदघाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य सचिव डॉ एसएस संधू ने कहा कि आगामी तीन दिनों...

सर्दियों के मौसम में खासतौर से रखें दिल का ख्याल: डॉ. इरफान

मेडिट्रीना अस्पताल ने उत्तरांचल प्रेस क्लब में पत्रकारों और उनके परिजनों के लिए आयोजित किया कार्डियक हेल्थ चेकअप कैंप प्रेस क्लब सदस्यों व...

बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड के पदाधिकारियों ने CM धामी से की मुलाकात, सौंपा मांग पत्र

हर्षिता टाइम्स। देहरादून, 21 नवंबर। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से सोमवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड के पदाधिकारियों ने भेंट की।...

CM धामी ने अगस्त्यमुनि के कोठगी में नर्सिंग कॉलेज का किया शिलान्यास

हर्षिता टाइम्स। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को 20 करोड़ 44 लाख 16 हजार की लागत से विकास खंड अगस्त्यमुनि के कोठगी में बनने...

उत्तरांचल प्रेस क्लब ने किया सूचना महानिदेशक का स्वागत

एमपी की तर्ज पर अंशदान आधारित बीमा योजना व स्वास्थ्य सुविधा और पत्रकारों का डाटा बेस तैयार कराने का महानिदेशक ने दिया भरोसा देहरादून, 6...

इगास पर अपनों को दें स्थानीय उत्पादों की भेंट- मुख्यमंत्री

संस्कृति और पहाड़ी उत्पादों का संरक्षण करने की मुख्यमंत्री ने की अपेक्षा। हर्षिता टाइम्स। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित केम्प...