Home उत्तराखंड भाषा के काम सरकार के भरोसे नहीं हो सकते, समाज को आगे...

भाषा के काम सरकार के भरोसे नहीं हो सकते, समाज को आगे आना होगा : नरेंद्र सिंह नेगी

  • अधीनस्थ चयन सेवा आयोग में स्थानीय भाषाओं को तरजीह दी जाए : धस्माना
  • गढ़वाली को आठवीं अनुसूची में शामिल किया जाए : शास्त्री

देहरादून। विनसर प्रकाशन के रजत जयंती वर्ष के अवसर पर मातृभाषा गढ़वाली के लेखकों की आज राजधानी में एक गोष्ठी आयोजित की गयी। गोष्ठी में गढवाली में प्रकाशित प्राथमिक कक्षाओं के पाठ्यक्रम की पुस्तकों धगुलि , हंसुली , छुबकी , पैजबी और झुमकी के लेखकों तथा इन पुस्तकों में चित्रांकन करने वाले चित्रकारों ने प्रतिभाग किया। गोष्ठी में लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी द्वारा हिंदी एवं अंग्रेजी में प्रकाशित उत्तराखंड ईयर बुक जारी की गई।
बैठक में लोकगायक नरेन्द्र सिंह नेगी ने कहा कि मातृभाषा गढ़वाली में पठन-पाठन से भाषा आगे बढ़ेगी। बच्चों को अपनी भाषा में पठन सामग्री उपलब्ध होगी तो वे अपनी भाषा के महत्वपूर्ण पक्षों को भी जान सकेंगे। इसके लिए गढ़वाली भाषा बोलने वाले समाज को आगे आना होगा। भाषा के काम सरकार के भरोसे नहीं हो सकते इसके लिए समाज को आगे आना होगा।
उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में निरंतर लिखे जाने की आवश्यकता है। लिखे जा रहे साहित्य का मानकीकरण आने वाले समय मे विद्वान करते रहेंगे अभी तो निरंतर कार्य किये जाने की आवश्यकता है।
गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए इतिहासकार डॉ योगेश धस्माना ने कहा कि अधीनस्थ चयन सेवा आयोग में स्थानीय भाषाओं को तरजीह देने से जहाँ परीक्षार्थी अपनी भाषा को पढ़ेंगे वहीं भाषा रोजगार से भी जुड़ जाएगी। उन्होंने कहा कि जब भाषा रोजगार से जुड़ेगी तो उसकी उपयोगिता बढ़ जाती है और भाषा में आवश्यकतानुसार प्राण प्रतिष्ठा भी हो जाती है।
गोष्ठी में वरिष्ठ पत्रकार दिनेश शास्त्री सेमवाल ने कहा कि भाषाएँ चुनाव जीतने का माध्यम नहीं हैं इनका उपयोग सिर्फ़ के लिए न हो लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा हो रहा है। उत्तराखंड में भाषाओं को लेकर संजीदगी से कार्य किये जाने की आवश्यकता है तभी भाषाएं दीर्घजीवी होंगी। उन्होंने कहा कि अपनी भाषाओं को बचाने की पहल अपने घर से करने की आवश्यकता है तभी भाषा जिंदा रह सकती है।
इस अवसर पर गढवाली साहित्यिकार गिरीश सुन्द्रियाल ने कहा कि मातृभाषा गढवाली का प्राथमिक कक्षाओं का पाठ्यक्रम बहुत ही बेहतरीन है लेकिन दुर्भाग्य से इसे अभी तक पूरे क्षेत्र में शुरू नहीं किया जा सका है। गोष्ठी में विचार व्यक्त करते हुए डॉ जगदम्बा प्रसाद कोटनाला ने कहा कि भाषा को समृद्ध किये जाने के दृष्टि से लेखकों द्वारा निरंतर लेखन किया जाना चाहिए।
गढवाली कवियित्री बीना बेंजवाल ने कहा कि प्राथमिक कक्षाओं के लिए तैयार किया गया गढवाली भाषा का पाठ्यक्रम एनसीईआरटी और एससीईआरटी के मानकों पर खरी हैं और पुस्तकों की पाठ्य सामग्री बहुत ही उत्तम है। इस गोष्ठी में इस पाठ्यक्रम को तैयार करने वाले लेखकों और चित्रकारों को विनसर प्रकाशन द्वारा सम्मान राशि प्रदान की गयी। गोष्ठी का संचालन गणेश खुगशाल गणी ने किया।

RELATED ARTICLES

CM धामी ने 10 इलैक्ट्रिक बसों का शुभारंभ किया

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय से देहरादून स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत 10 इलैक्ट्रिक बसों का विस्तारित...

चिकित्सकों की कमी दूर करने के लिए किए जा रहे प्रयास: डॉ राजेश

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड / चिंतन शिविर के आज के समापन सत्र में स्वास्थ्य विषय पर स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार द्वारा प्रस्तुतिकरण...

पेयजल पर वृहद स्तर पर जागरूकता फैलाने की आवश्यकता

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड /25 चिंतन शिविर में पेयजल सचिव नितेश कुमार झा ने नेचुरल रिसोर्स मैनेजमेन्ट पर अपना प्रेजेंटेशन दिया। उन्होंने बताया कि...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

CM धामी ने 10 इलैक्ट्रिक बसों का शुभारंभ किया

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय से देहरादून स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत 10 इलैक्ट्रिक बसों का विस्तारित...

चिकित्सकों की कमी दूर करने के लिए किए जा रहे प्रयास: डॉ राजेश

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड / चिंतन शिविर के आज के समापन सत्र में स्वास्थ्य विषय पर स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार द्वारा प्रस्तुतिकरण...

पेयजल पर वृहद स्तर पर जागरूकता फैलाने की आवश्यकता

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड /25 चिंतन शिविर में पेयजल सचिव नितेश कुमार झा ने नेचुरल रिसोर्स मैनेजमेन्ट पर अपना प्रेजेंटेशन दिया। उन्होंने बताया कि...

यूपीसी लॉयंस और पैंथर्स का जीत से आगाज

-अजय गौतम मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट देहरादून: उत्तरांचल प्रेस क्लब की ओर से आयोजित अजय गौतम मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट में यूपीसी लायंस ने यूपीसी लेपर्ड को...

बदलती परिस्थितियों के हिसाब से हमें परिवर्तन लाने होंगे: मुख्य सचिव

हर्षिता टाइम्स। देहरादून। सशक्त उत्तराखंड/25 चिंतन शिविर के उदघाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य सचिव डॉ एसएस संधू ने कहा कि आगामी तीन दिनों...

सर्दियों के मौसम में खासतौर से रखें दिल का ख्याल: डॉ. इरफान

मेडिट्रीना अस्पताल ने उत्तरांचल प्रेस क्लब में पत्रकारों और उनके परिजनों के लिए आयोजित किया कार्डियक हेल्थ चेकअप कैंप प्रेस क्लब सदस्यों व...

बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड के पदाधिकारियों ने CM धामी से की मुलाकात, सौंपा मांग पत्र

हर्षिता टाइम्स। देहरादून, 21 नवंबर। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से सोमवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड के पदाधिकारियों ने भेंट की।...

CM धामी ने अगस्त्यमुनि के कोठगी में नर्सिंग कॉलेज का किया शिलान्यास

हर्षिता टाइम्स। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को 20 करोड़ 44 लाख 16 हजार की लागत से विकास खंड अगस्त्यमुनि के कोठगी में बनने...

उत्तरांचल प्रेस क्लब ने किया सूचना महानिदेशक का स्वागत

एमपी की तर्ज पर अंशदान आधारित बीमा योजना व स्वास्थ्य सुविधा और पत्रकारों का डाटा बेस तैयार कराने का महानिदेशक ने दिया भरोसा देहरादून, 6...

इगास पर अपनों को दें स्थानीय उत्पादों की भेंट- मुख्यमंत्री

संस्कृति और पहाड़ी उत्पादों का संरक्षण करने की मुख्यमंत्री ने की अपेक्षा। हर्षिता टाइम्स। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित केम्प...